बजट 2020- इंश्योरेंस कंपनियों को मिल सकती है सरकार की सौगात, पूंजी बढ़ने के आसार

Insurance companies can get government gifts, capital is expected to increase

केंद्र की मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का आम बजट 1 फरवरी 2020 को पेश होगा. बजट सत्र 31 जनवरी से शुरू होकर दो चरणों में 3 अप्रैल तक चलेगा. बतादें कि पहला चरण 31 जनवरी से 11 फरवरी तक और दूसरा 2 मार्च से 3 अप्रैल तक होगा. जानकारी के मुताबिक संसदीय मामलों की कैबिनेट कमेटी ने इन तारीखों की सिफारिश की है. वहीं जनरल इंश्योरेंस की सरकारी कंपनियों के लिए बजट में दूसरे दौर की पूंजी का ऐलान हो सकता है. सरकार ने तीन कंपनियों- नेशनल इंश्योरेंस, ओरिएंटल इंश्योरेंस और यूनाइटेड इंडिया इंश्योरेंस को पिछले महीने 2,500 करोड़ रुपए की पूंजी जारी की थी. मिली जानकारी के मुताबिक इन कंपनियों को जरूरी मार्जिन के लिए 10 हजार से 12 हजार करोड़ रुपए की अधिक पूंजी की आवश्यकता है.

बतादें कि इंश्योरेंस कंपनियों को पूंजी मिलने के बाद ना सिर्फ उनकी वित्तीय स्थिति सुधरेगी बल्कि मर्जर में भी मदद मिलेगी. 2018-19 के बजट में तत्कालीन वित्त मंत्री अरुण जेटली ने तीनों कंपनियों का विलय कर एक कंपनी बनाने की घोषणा की थी. लेकिन, कंपनियों की वित्तीय हालत ना होने के कारण विलय नहीं हो पाया. न्यूज एजेंसी के सूत्रों के अनुसार मर्जर के बाद बनने वाली कंपनी को शेयर बाजार में लिस्ट करवाया जाएगा. साथ ही मर्जर के बाद बनने वाली कंपनी देश की सबसे बड़ी गैर-जीवन बीमा (नॉन-लाइफ इंश्योरेंस) कंपनी होगी. उसका वैल्यूएशन 1.2 लाख करोड़ रुपए से 1.5 लाख करोड़ रुपए तक होने का अनुमान है.

2017 में इंश्योरेंट सेक्टर की दो सरकारी कंपनियां- न्यू इंडिया एश्योरेंस कंपनी और जनरल इंश्योरेंस कॉर्पोरेशन शेयर बाजार में लिस्ट हुई थीं.

पिछला ब्रांड
अगला ब्रांड इक्विटी

अपनी टिप्पणी लिखें

Your email address will not be published. Required fields are marked *