FD कराते समय सेलेक्‍ट करें रीइन्‍वेस्‍टमेंट का ऑप्‍शन, हर तीन महीने पर बढ़ती जाएगी ब्‍याज से इनकम


Fixed Deposit - Finance in Hindi

आम भारतीयों के लिए फिक्‍स्ड डिपॉजिट (FD) सेविंग के लिए लंबे समय से पसंदीदा विकल्‍प रहा है। इसका कारण यह है कि एफडी में निवेश पूरी तरह से सुरक्षित है और इस पर आकर्षक रिटर्न मिलता है। जब आप FD कराते हैं तो बैंक आपको मंथली या तिमाही ब्‍याज लेने या उसे रीइन्‍वेस्‍ट करने का ऑप्‍शन देते हैं।

अगर आप तिमाही मिलने वाले ब्‍याज को रीइन्‍वेस्‍ट करने का ऑप्‍शन चुनते हैं तो आप की एफडी पर ब्‍याज से होने वाली आय हर तीन माह पर बढ़ती जाएगी। यानी आपकी FD ब्‍याज पर ब्‍याज कमाएगी। इसे ही कंपाउंडिंग की पावर कहते हैं।

उदाहरण के लिए मान लेते हैं कि आपने 1 जून, 2018 को 5 लाख रुपए की एफडी 5 साल के लिए कराई है। एफडी पर ब्‍याज दर 7 फीसदी हे। पहली तिमाही के अंत तक आपको इस पर 8822 रुपए ब्‍याज मिलेगा। जब आप यह ब्‍याज रीइन्‍वेस्‍ट करेंगे तो समय के साथ आपकी ब्‍याज आय बढ़ती जाएगी। एफडी की अवधि की आखिरी तिमाही में आपको ब्‍याज के तौर पर 12265 रुपए मिलेंगे। यह पहली तिमाही में मिले ब्‍याज से 3443 रुपए ज्‍यादा होगा।

कोई और लेख नहीं है
अगला आपको अपने आईटीआर को अपने आप फाइल करने में संकोच क्यों नहीं करना चाहिए

अपनी टिप्पणी लिखें

Your email address will not be published. Required fields are marked *